Best 20 Sarvepalli Radhakrishnan quotes in Hindi

(Dr. Sarvepalli Radhakrishnan quotes in Hindi, inspiring quotes of Sarvepalli Radhakrishnan in Hindi) डॉक्टर सर्वपल्ली राधाकृष्णन एक भारतीय दार्शनिक व राजनेता थे। सर्वपल्ली राधाकृष्णन भारत के पहले उपराष्ट्रपति व दूसरे राष्ट्रपति थे। भारत में हर वर्ष 5 सितंबर को उनके जन्मदिन को शिक्षक दिवस के रूप में मनाया जाता है। राधाकृष्णन, ‘चक्रवर्ती राजगोपालाचारी’ के बाद दूसरे व्यक्ति थे जिन्हें भारत रत्न से सम्मानित किया गया था।

इस लेख में आप जानेंगे सर्वपल्ली राधाकृष्णन के प्रसिद्ध विचार व कथन।

डॉक्टर सर्वपल्ली राधाकृष्णन का संक्षिप्त परिचय

Nameसर्वपल्ली राधाकृष्णन
Born5 सितंबर 1888
Famous for भारत के दूसरे राष्ट्रपति
Died17 अप्रैल 1975
Nationality भारतीय
Sarvepalli-Radhakrishnan-quotes-in-Hindi

30 Sarvepalli Radhakrishnan quotes in Hindi – डॉ. सर्वपल्ली राधाकृष्णन के अनमोल विचार

1. “थोड़ा सा इतिहास बनाने में शताब्दियां लग जाती हैं, परंपरा बनाने में सदियों का इतिहास लग जाता है।”

2. “शिक्षा का अंतिम उत्पाद एक स्वतंत्र रचनात्मक व्यक्ति होना चाहिए, जो ऐतिहासिक परिस्थितियों और प्रकृति की प्रतिकूलताओं से लड़ सके।”

3. “ ‘अनुभाववासनमेव विद्या फलम’। ज्ञान का फल, विद्या का फल अनुभव है।”

4. “भगवान सभी आत्माओं की आत्मा है – सर्वोच्च आत्मा – सर्वोच्च चेतना।”

5. “शिक्षकों को देश में सबसे अच्छा दिमाग होना चाहिए।”

6. “एक विश्वविद्यालय का मुख्य कार्य डिग्री और डिप्लोमा प्रदान करना नहीं है बल्कि विश्वविद्यालय की भावना और उन्नत शिक्षा का विकास करना है।”

7. “ज्ञान और विज्ञान के आधार पर ही आनंद और खुशी का जीवन संभव है।”

8. “मेरा जन्मदिन 5 सितंबर को शिक्षक दिवस के रूप में मनाया जाए तो यह मेरे लिए गौरव की बात होगी।”

9. “अपने पड़ोसियों को अपने समान प्यार करो क्योंकि तुम अपने पड़ोसी हो। यह एक भ्रम है जो आपको लगता है कि आपका पड़ोसी आपके अलावा कोई और है।”

10. “परमात्मा पाप से मुक्त है, वृद्धावस्था से मुक्त है, मृत्यु और शोक से मुक्त है, भूख और प्यास से मुक्त है, जो न कुछ चाहता है और न कुछ कल्पना करता है।”

11. “आत्मान (आत्मा) शब्द का अर्थ है – “जीवन की सांस”।”

12. “आत्मा मनुष्य के जीवन का सिद्धांत है, वह आत्मा जो उसके अस्तित्व, उसकी सांस, उसकी बुद्धि में व्याप्त है और उन्हें पार करती है। आत्मा वह है जो तब बचता है जब वह सब कुछ जो स्वयं नहीं है समाप्त हो जाता है। यह मनुष्य में अजन्मा और अमर तत्व है, जिसे शरीर, मन या बुद्धि से भ्रमित नहीं होना है।”

13. “ईश्वर हम में से हर एक में रहता है, महसूस करता है और पीड़ित होता है, और समय के साथ, उसके गुण, ज्ञान, सौंदर्य और प्रेम हम में से प्रत्येक में प्रकट होंगे।”

14. “किताबें वह साधन हैं जिनके द्वारा हम संस्कृतियों के बीच सेतु बनाते हैं।”

15. “धर्म व्यवहार है न कि केवल विश्वास।”

16. “सहनशीलता वह श्रद्धांजलि है जो सीमित मन अनंत की अक्षयता को अदा करता है।”

17. “सबसे बुरे पापी का भविष्य होता है, वैसे ही सबसे बड़े संत का भी अतीत होता है। कोई भी व्यक्ति इतना अच्छा या बुरा नहीं होता जितना वह सोचता है।”

18. “जब हम सोचते हैं कि हम जानते हैं तब हम सीखना बंद कर देते हैं।”

19. “सच्चे शिक्षक वे हैं जो हमें अपने बारे में सोचने में मदद करते हैं।”

20. “ज्ञान हमें शक्ति देता है, प्रेम हमें पूर्णता देता है।”

उम्मीद है आपको यह पोस्ट ‘Best 20 Sarvepalli Radhakrishnan quotes in Hindi’ पसंद आई होगी, यदि पसंद आई हो तो इसे सोशल मीडिया पर अपने दोस्तों के साथ शेयर जरूर करें।

यह भी पढ़ें

Leave a Comment